माँ पर भाषण

माँ पर भाषण हिन्दी मे | Speech on Mother in English

माँ पर भाषण 

आपका बेनेफिट्सा में स्वागत है। इस लेख के माध्यम से हम माँ पर भाषण पर चर्चा करेंगे।

क्या आप भी माँ के ऊपर भाषण तलाश कर रहे हैं? अगर हाँ, तो आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। यहां आपको एक से बेहतर एक भाषण माँ के ऊपर मिलेंगे। 

आपको हम बता देना चाहते हैं की, आप इस लेख मे से कई सारे वाक्य को अपने हिसाब से बदल सकते हैं। इस लेख में कई सारे वाक्य हैं जो आपके सिचुएशन के हिसाब से फिट नहीं हो सकते हैं, तो इसे अपने हिसाब से जरूर बदल ले। 

अगर आप लड़का/लड़की/गुरु/व्यक्ति हैं तो ये लेख आपके लिए बहुत मददगार हो सकता हैं। 

तो अब शुरू करते हैं माँ पर भाषण। 


माँ पर भाषण – 10 Line मे 

आप सभी को मेरा प्रणाम। 

आज के इस पावन अवसर पर, मुझे आज कुछ कहने का मौका मिला है। इसके लिए मैं आपका शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। आज मदर डे के अवसर पर मैं सभी माताओं के लिए कुछ कहना चाहता हूँ।

  1.  माँ वो हैं जिनके आशीर्वाद से बच्चे को नया जीवन मिलता है। जो बच्चे को नौ महीने अपने गर्भ में रखती है, हर दर्द शहकर जन्म देती हैं। 
  2. अपने बच्चे को दर्द में देखकर जिसका कलेजा फट जाता है, वो माँ है। बच्चे पे आने वाली हर मुसीबत को वो खुद पे ले लेती  हैं। 
  3. इस दुनिया मे माँ भगवान से बढ़कर हैं। बच्चों के लिए माँ ही पहली मित्र, पहला प्यार, और दुनिया होती हैं। 
  4. मेरी माँ इस दुनिया की सबसे अच्छी माँ हैं। वो प्यारी, पूजनीय, और मेरे लिए सब कुछ है। 
  5. इस दुनिया मे सबसे पहले मैंने अपनी माँ को देखा था, मैं अपने जीवन की कल्पना भी नहीं करता सकता अपनी माँ के बिना। 
  6. माँ शब्द मे पूरा जहान समाया हुआ हैं, खुद भूखा रह कर जो मुझे रोटी खिलाती हैं वो माँ हैं, जो बिना किसी स्वार्थ के मेरे लिए हमेशा खड़ी रहती हैं वो माँ हैं। मेरी माँ मे ये पूरी दुनिया समाई हुई हैं। 
  7. मेरे बीमार होने पर वो मेरे लिए रात रात भर जागती हैं, मेरे साथ कदम मिलाकर चलती हैं, वो मेरी माँ है। 
  8. जिसने मुझे चलना सिखाया, दुनिया का सारा ज्ञान दिया, जीतने की ताकत दी, लड़ना सिखया वो मेरी माँ हैं । 
  9. माँ के प्यार के बदले में उन्हें कुछ भी दू वो कम हैं। मेरी माँ मेरी सबकुछ हैं । 
  10. बिना माँ के मैं कुछ भी नहीं हूँ, मैं शायद दुनिया का सबसे खुशहाल इंसान हूँ जिससे आप जैसी माँ मिली हैं। 

मैं खुशनसीब हूँ, जो यहां पर आया हूँ, मदर दे के इस अवसर पर कहने को मौका मिला, जाते जाते कहना चाहता हूँ कि, माँ की तुलना इस दुनिया में तो क्या किसी भी दुनिया में नहीं की जा सकती, माँ बच्चों की आत्मा होती हैं। 

धन्यवाद। 


माँ पर भाषण – 300 शब्दों में। 

आप सभी को सुप्रभात। 

आशा करता हूँ की आप सब ठीक होंगे, आज के इस अवसर पर मैं आप सभी के सामने माँ पर कुछ कहना चाहूँगा। 

माँ, इस शब्द मे पूरी दुनिया समाई हुई हैं, माँ की तुलना इस दुनिया मे किसी से भी नहीं की जा सकती, यहा तक की भगवान से भी बढ़कर माँ होती हैं। 

जो हमें जन्म देती हैं, चलना सिखाती हैं, हर संकट से बचाती हैं वो माँ होती हैं। हमें जन्म देने से लेकर अपनी आखिरी सांस तक हमे प्यार करती हैं, बिना किसी स्वार्थ के हमारे लिए जीती हैं वो माँ हैं। 

बच्चों को दर्द मे देखकर जिसकी आत्मा तक रोने लगती हैं वो माँ हैं, हम चाहे कितना भी कुछ कर ले मगर उनका कर्ज नहीं चुका सकते। 

दुनिया मे हर किसी का प्यार झूठा हो सकता हैं, मगर माँ का प्यार निस्वार्थ अपने बच्चे के लिए होता हैं। जो बिना किसी डर के दुनिया से लड़ जाए वो माँ होती हैं। 

बच्चे की पहली मित्र, पहला प्यार और, पहली खुसी माँ होती हैं। इस शब्द मे पूरी जहान बशी हुई हैं। 

जब भी मैं बीमार हो जाता हूँ, मेरी माँ रात भर जागकर मेरा ख्याल रखती हैं। मैं अपनी जीवन की कल्पना भी उनके बिना नहीं कर सकता। 

उन्हें दर्द मे देखकर मेरी आँखों से अंशु निकल जाता हैं। मैं उनकी खुशी के लिए कुछ भी कर सकता हूँ। मैं अपनी माँ को हमेशा खुश देखना चाहता हूँ। 

माँ हर चीज त्याग कर देती हैं अपने बच्चों के लिए, माँ पूजनीय और सबसे अनमोल हैं इस दुनिया मे, माँ बच्चों के लिए पहला प्यार हैं। 

बच्चों मे माँ की जान बस्ती हैं, याद हैं मुझे जब मैं एक बार साइकिल चलते हुए गिर गया था, मुझे जितना दर्द नहीं हुआ था उससे ज्यादा दर्द मेरी माँ को हुआ था। 

खुशी के वक्त बच्चों के पीछे और तकलीफ के वक्त सबसे आगे रहने वाली माँ होती हैं। माँ के स्थान दुनिया मैं कोई नहीं ले सकता। 

आखिरी शब्द माँ पर यही कहूँगा, माँ अगर तुम नहीं होती तो ये जिंदगी नहीं होती। मैं आपसे बहुत प्यार करता हूँ। 

धन्यवाद। 


माँ पर भाषण – 500 शब्दों में। 

आप सभी का यहाँ स्वागत हैं। 

मैं आप सभी के सामने दुनिया की सबसे अच्छा भाषण देने जा रहा हूँ, भाषण माँ पर हैं। मैं उस औरत के बारे मे कुछ कहना चाहूँगा जिसके बिना मेरा कोई अस्तित्व नहीं हैं। 

माँ ये बस एक शब्द नहीं हैं, ये एक एहसास हैं, एक ऐसा एहसास जो हर इंसान को होता हैं, बिना माँ के ये दुनिया की कल्पना भी नहीं कर सकते। 

हर इंसान जो आज इस दुनिया मे दिखते हैं, वो माँ की वजह से ही हैं। माँ बच्चे को जन्म देती हैं, पालन पोषण करती हैं, हर खतरे और तकलीफ से बचाती हैं। बिना किसी स्वार्थ के प्यार देती हैं। 

हम भगवान को भूल सकते हैं, मगर माँ को कभी नहीं। माँ पूजनीय और वंदनीय होती हैं, बिना किसी से डरे माँ अपने बच्चों के लिए हर चीज करती हैं। 

मैं अपनी माँ की बात करू तो, वो एक ऐसी माँ हैं जिसमे मेरे लिए हर मुमकिन प्रयास किया हैं। मेरे लिए उनका प्यार और त्याग दुनिया मे किसी भी त्याग से बड़ा हैं। उन्होंने मुझे जन्म दिया हैं, चलना सिखाया हैं, दुनिया की सारी सिख दी हैं, वो माँ मेरी दुनिया की सबसे अच्छी माँ हैं। 

हमें दर्द मे देख कर जिनकी आँखों मे सबसे पहले अंशु आ जाए वो माँ हैं। मैं बहुत किस्मत वाला हूँ की माँ ने मुझे जन्म दिया हैं, इस काबिल बनाया हैं कि हम इस दुनिया मे गर्व से जी सकें। 

हर दर्द और तकलीफ से हमे बचाना माँ अपना फर्ज समझती हैं, मगर अब हमारा फर्ज हैं की माँ को सारी खुशियां दे। 

आज के समाज मे बच्चे अपने माँ बाप के त्याग को भूल कर उन्हे अनदेखा कर देते हैं। मगर माँ बाप का आशीर्वाद बच्चों के लिए सदा बना रहता हैं। सभी बच्चों को अपने माँ बाप का सहारा बनना चाहिए, बुढ़ापे मे सेवा करनी चाहिए। 

महात्मा गांधी, भगत सिंह, जैसे बड़े क्रांतिकारियों ने भी माँ की सेवा को प्राथमिकता दी हैं। सभी लोगों को अपनी माँ को प्यार करना चाहिए। 

एक माँ ही होती हैं जो मरने के बाद भी अपने बच्चों पर अपना आशीर्वाद बनाए रखती हैं। मैं गर्व से कहता हूँ, की मेरी माँ ने मुझे जीवन दिया हैं और इस लायक बनाया हैं की मैं अब उनकी सेवा कर सकू। 

आखिरी शब्द माँ पर यही कहना चाहूँगा की, माँ आपके बिना मैं जी नहीं सकता, आप मेरे लिए सब कुछ हो। मैं हमेशा आपके साथ रहना चाहता हूँ, आपको दुनिया की सब खुशी देना चाहता हूँ। 

धन्यवाद। 


दोस्तों अगर आपको ये लेख पसंद आया हैं तो आप ये लेख अपने भाषण मे इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आपको इसमें कोई वाक्य मे बदलाव करना हैं तो आप कर सकते हैं अपने अनुसार। 

आशा करता हूँ आपको ये लेख (माँ पर भाषण) पसंद आया होगा, अगर आपको कोई समस्या या सुझाव हैं तो comment जरूर करे। जय हिन्द। 



Speech on mother

Welcome to Benefitsa. Through this article, we will discuss the speech on mother.

Are you also looking for a speech on Mother? If yes, then you have come to the right area. Here you will find better than one speech over mother.

We want to tell you that you can change many of the sentences in this article according to yourself. There are many sentences in this article that may not fit according to your situation, so please change it accordingly.

If you are a boy/girl/teacher/person then this article can be very helpful for you.

So now let’s start a speech on mother.


Speech on mother – 10 line

I salute you all.

On this auspicious occasion of today, I have a chance to say something today. I want to thank you for this. Today, on the occasion of Mother’s Day, I want to say something to all the mothers.

  1. Mother is the one whose blessings give new life to the child. The one who keeps the baby in her womb for nine months gives birth to every pain.
  2. Seeing her child in pain, whose heartbreaks, she is the mother. She takes all the trouble of the child on her own.
  3. Mother is more than God in this world. Mothers are the first friend, first love, and the world for children.
  4. My mother is the best mother in this world. She is lovely, venerable, and everything to me.
  5. The first time I saw my mother in this world, I could not even imagine my life without my mother.
  6. The whole world is absorbed in the word mother, by starving herself, who feeds me bread, she is the mother, who always stands for me without any selfishness, she is the mother. My mother covers the whole world.
  7. She wakes up for me overnight when I am sick, she walks with me, she is my mother.
  8. The one who taught me to walk gave me all the knowledge of the world, gave me the strength to win, taught me to fight, she is my mother.
  9. Anything they give them in return for their mother’s love is less. My mother is my everything.
  10. I am nothing without a mother, I am probably the happiest person in the world, having met a mother like you.

I am lucky, who has come here, got an opportunity to say on this occasion of Mother Day, I want to say while going, that mother cannot be compared in any world, mother would be the soul of children.

Thank you.


Speech on the mother – 300 words

Good morning to all of you.

I hope that you will all be well, on this occasion today, I would like to say something to my mother in front of you.

Mother, the whole world is covered in this word, the mother cannot be compared to anyone in this world, even here there are more mothers than God.

Those who give birth to us, teach us to walk, protect us from every crisis, are mothers. From giving birth to us till her last breath she loves us, she lives for us without any selfishness, she is a mother.

Seeing children in pain, whose soul even starts crying, they are the mother, no matter how much we do, we cannot repay their debt.

Everyone’s love in the world may be false, but a mother’s love is selfless for her child. Those who fight the world without any fear are mothers.

The child has a first friend, first love, and a happy mother. In this word, the whole world is engulfed.

Whenever I get sick, my mother stays up all night and takes care of me. I can’t even imagine my life without them.

Seeing them in pain, tears come out of my eyes. I can do anything for their happiness. I want to see my mother always joyful.

Mother renounces everything for her children, the mother is revered and most precious in this world, the mother is the first love for children.

Mother’s life is in the children, I remember when I once fell on a bicycle, my mother felt more pain than I did not.

She is the mother behind the children in times of happiness and the leader in times of trouble. Nobody can take the place of a mother in the world.

This is the last word I would say to mother, if mother had not been you, this life would not have happened. I love you very much

Thank you.


इसे भी पढे

कृषि पर भाषण/speech on agriculture

Speech on the mother – 500 words

You are all welcome here.

I am going to give the best speech in the world in front of all of you, the speech is on mother. I would like to say something about the woman without whom I do not exist.

Mother, it is not just a word, it is a feeling, a feeling that is there for every human being, without a mother, they cannot even imagine the world.

Every human being seen in this world today is because of his mother. Mother gives birth to a child, nurtures protection against every danger and suffering. She gives love without any selfishness.

We can forget God, but never a mother. Mothers are revered and venerable, without fearing anyone, Mother does everything for her children

If I talk about my mother, she is a mother in whom every effort has been made for me. Her love and sacrifice for me is greater than any sacrifice in the world. she has given birth to me, taught me to walk, has given all the knowledge in the world, that mother is the best mother in my world.

Seeing us in pain, Tears comes first in her eyes, she is the mother. I am very lucky that my mother gave birth to me, has made me capable that we can live proudly in this world.

To protect us from every pain and suffering, the mother considers it her duty, but now it is our duty to give all the happiness to the mother.

In today’s society, children forget their parents’ sacrifice and ignore them. But the blessings of the parents always remain for the children. All children should become the support of their parents, should serve in old age.

Big revolutionaries like Mahatma Gandhi, Bhagat Singh have also given priority to the service of the mother. All people should love their mother.

There is a mother who maintains her blessings on her children even after she dies. I proudly say that my mother has given me life and made it worth it that I can serve her now.

The last word I would like to say to mother, mother, I cannot live without you, you are everything to me. I want to be with you always, I want to give you all the happiness in the world.

Thank you.

Friends, if you have liked this article, then you can use this article in your speech. If you want to change a sentence, then you can do it according to yourself.

Hope you liked this article(माँ पर भाषण) if you have any problem or suggestion then do comment. Jai Hind.


इसे भी पढे

किताब पर भाषण/Speech On Booksपिता पर भाषण/Speech on Father
योग पर भाषण/Speech on Yogaखेल पर भाषण/Speech on Sport
शेयर जरूर करे
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *