कृषि पर भाषण

कृषि पर भाषण हिन्दी मे | Speech on Agriculture in English

कृषि पर भाषण 

आपका बेनेफिट्सा में स्वागत है। इस लेख के माध्यम से हम कृषि पर भाषण पर चर्चा करेंगे।  

क्या आप भी कृषि पर एक अच्छा भाषण तलाश कर रहे हैं। आपको भी कृषि पर भाषण या कोई लेख लिखना हैं? अगर हाँ, तो आज मैं आपकी बहुत मदद करने वाला हूँ। इस लेख के माध्यम से आप एक अच्छा भाषण दे पाएंगे। एक अच्छा लेख लिख पाएंगे। 

अगर आपको कृषि पर भाषण चाहिए तो इस लेख को पूरा जरूर पढे, ताकि आपकी भाषण लोगों को बहुत पसंद आए, आप अपने भाषण से लोगों के दिल जीत पाए। 

आप इस लेख के कई सारे वाक्यों को अपने माहौल, अपने वातावरण के अनुसार बदल सकते हैं, जिसकी मदद से आपके भाषण मे और निखार आए। 

तो अब बिना किसी देरी के सुरू करते हैं कृषि पर भाषण। 


कृषि पर भाषण – 10 वाक्यों में

आप सभी को मेरा प्रणाम। 

आज के इस अवसर पर आप सभी का स्वागत हैं, आज के इस अवसर पर मैं आप सभी के बीच कृषि पर कुछ कहना चाहूँगा। जो की बहुत जरूरी हैं आज के समय में। 

  1. कृषि बस एक शब्द नहीं हैं शब्द, कृषि मे पूरा समाज, राष्ट्र और दुनिया समाई हुई हैं। बिना कृषि के कोई भी समाज की कल्पना भी कर पाना मुमकिन नहीं हैं। 
  2. कृषि देश का सबसे बड़ा हथियार हैं जिसकी मदद से हर तरह की जंग जीती जाती हैं, चाहे वो भूख की जंग हो या जरूरत की जंग। 
  3. हमारा देश एक कृषि प्रधान देश हैं, हमारी देश की बहुत बड़ी आबादी कृषि पर निर्भर हैं। कृषि के माध्यम से देश का विकास होता हैं, लोगों की पालन पोषण होता हैं। 
  4. कृषि का मतलब सिर्फ खेती करना ही नहीं हैं, कृषि मे जानवरों का पालन पोषण भी शामिल हैं, कृषि के माध्यम से लोगों की जिंदगी बदलती हैं। 
  5. आज देश की प्रगति के लिए कृषि का योगदान बहुत बड़ा हैं। बिना कृषि के समाज की कल्पना भी नहीं की जा सकती। 
  6. कृषि आज से ही नहीं, प्राचीन काल से ही, देश की नींव को कायम बनाए रखने मे, बहुत बड़ी भूमिका निभाती हैं। 
  7. कृषि के माध्यम से लोगों को रोजगार मिलती हैं। लोगों की जरूरत पूरी होती हैं। 
  8. लोगों के कमाई का, कृषि एक बहुत बड़ा साधन हैं, कृषि मे मध्ययम से लोगों की जिंदगी खुशहाल होते जा रही हैं। 
  9. सिर्फ भारत ही नहीं दुनिया का हर देश कृषि पर निर्भर होता हैं। कृषि के माध्यम से देश की आर्थिक स्थिति सुधरी हैं ।
  10. कृषि पर निर्भर लोगों की वजह से आज हम स्वस्थ हैं, हमारी हर जरूरत पूरी हो रही हैं। कृषि के कारण ही हम सबका विकास हो रहा हैं। 

आखिरी शब्द यही कहूँगा की, कृषि के बिना किसी समाज का कोई कल्पना नहीं की जा सकती। हर इंसान को कृषि मे बढ़ चढ़कर भाग लेना चाहिए ताकि दुनिया और समाज बदल सके। 

धन्यवाद। 


कृषि पर भाषण – 300 शब्दों में 

आप सभी को इस दिन हार्दिक शुभकामनाएं। 

आज इस अवसर पर मैं आप सभी का यहाँ स्वागत करता हूँ। आज के इस अवसर पर आपके साथ मुझे बहुत खुशी हो रही हैं, मैं इस अवसर पर आप सभी के बीच कृषि पर कुछ कहना चाहता हूँ। जो की आज के समय मे बहुत जरूरी हैं। 

कृषि करने वाले आज के समय भगवान के समान हैं, बिना कृषि के आज का समय की कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। कृषि के कारण ही देश, समाज, और दुनिया कायम हैं। आज लगभग 70% की आबादी कृषि पर निर्भर हैं। कृषि के कारण देश का विकाश हो रहा हैं। 

अगर बात करें भारत की तो यहाँ, लगभग 60-70% लोगों कृषि पर निर्भर हैं। कृषि के कारण ही लाखों लोगों का पेट भरता हैं। लोगों को रोजगार मिलता हैं। आज जितने भी बड़े बड़े शहर हैं, वो सभी कृषि पर निर्भर हैं। 

भारत एक कृषि प्रधान देश हैं, यहाँ लगभग हर घर मे कृषि आयोजित किया जाता हैं। जिसके कारण उन्हे कभी भी कोई समस्या नहीं आती। लोग कृषि की वजह से अपना जीवन सुधार रहे हैं। लोग विशाल छेत्र मे कृषि करते हैं, जिसकी वजह से ज्यादा मुनाफा, ज्यादा रोजगार, और सभी जरूरतों को पूरा किया जाता हैं। 

कृषि के छेत्र मे बहुत से ऐसे जगह हैं जहां ज्यादा पैदावार नहीं होता हैं, सरकार और लोगों को इसे बदलने के लिए ठोस कदम उठाने चाहिए, कृषि के छेत्र मे परिवर्तन लाना चाहिए ताकि कृषि की सभी समस्या को खत्म किया जा सके। 

कृषि के फसलों के नुकसान पर किसान को थोड़ा सरकार और लोगों की और से मदद मिलनी चाहिए ताकि किसान का जीवन अच्छे से चले और किसान बेहतर तरीके से खेती कर पाए। 

आज कृषि कमाई का एक बहुत अच्छा साधन हैं, इसके मदद से लोगों की जिंदगी मे परिवर्तन आता हैं, लोग खुशहाल होते हैं। कृषि के माध्यम से देश की आर्थिक स्थिति भी सुधरी है।

सालों पहले कृषि के पैदावार अच्छा नहीं होने के कारण लाखों लोगों की मृत्यु भूख से हुई थी, मगर आज के समय मे कृषि बेहतर होने के कारण लोगों के जीवन और समाज मे परिवर्तन आया हैं। 

खेती का मतलब सिर्फ फसलों को सिचना नहीं होता, इसमें जानवरों की देखभाल और वातावरण के बचाव भी शामिल हैं।  

आज के इस अवसर पर आखिरी शब्द यही कहूँगा की, नए लोगों को नए तकनीक के साथ कृषि मे आने की जरूरत हैं। कृषि के अच्छे पैदावार की वजह से लोगों मे बदलाव आएगा और देश समाज का विकास होगा। 

धन्यवाद। 


कृषि पर भाषण – 500 शब्दों में 

आप सभी का स्वागत हैं। 

आज के इस समारोह में, मैं आप सभी का हार्दिक दिल से स्वागत करता हूँ, आज के इस अवसर पर आने के लिए आप सभी का आभार प्रकट करता हूँ, हम सभी आज कृषि के विषय पर चर्चा करने के लिए यहां एकत्रित हुए हैं, इस अवसर पर मैं आप सभी के सामने कृषि पर कुछ शब्द कहकर इस समारोह की शुरुआत करना चाहता हूँ। 

हमारा देश भारत एक कृषि प्रधान देश हैं, इस देश मे लगभग 70% आबादी कृषि पर निर्भर हैं, कृषि बस एक पैसा नहीं हैं, ये एक ऐसा साधन हैं जिसके माध्यम से लोगों का जीवन बदलता हैं, समाज मे बदलाव और देश का विकास होता हैं। 

किसी भी देश की नींव कृषि पर निर्भर होती हैं। कृषि के माध्यम से लाखों लोग अपना पेट भरते हैं, कृषि के माध्यम से लोगों को रोजगार मिलता हैं, देश के विकास मे कृषि की भूमिका और योगदान बहुत बड़ा हैं। 

भारत मे विशाल छेत्र मे कृषि का आयोजन होता हैं, इसके माध्यम से देश की अर्थव्यवस्था मे सुधार और बदलाव आता हैं। बिना कृषि के देश की कल्पना कर पाना मुमकिन नहीं हैं। 

आज के समय मे कृषि के छेत्र मे बहुत ज्यादा बदलाव गया हैं, कुछ छेत्र मे बहुत बड़ी आबादी मे कृषि किया जाता हैं, और कुछ छेत्र मे बहुत कम छेत्र मे, इसकी वजह से कुछ लोगों को फाइदा होता हैं और कुछ लोग नुकसान का सामना करते हैं। 

हम सभी को इस छेत्र मे काम करने और उसमें बदलाव लाने की जरूरत हैं। ताकि कृषि मे तरक्की हो सके, लोगों को इससे ज्यादा मुनाफा हो सके। 

कृषि मे सिर्फ खेती ही नहीं हैं, इसमें जानवरों का पालन पोषण भी शामिल हैं। खेती मे विभिन्न विभिन्न प्रकार के फसलें उगाई जाती हैं जैसे- गेहूं, आलू, चावल, प्याज, टमाटर, आम, आदि। 

कृषि के इस पैसे को हम नए तकनीक से और उपाय से बेहतर बना सकते हैं। जिसके कारण कृषि करने वाले मे शांति, खुशी, धन, स्वास्थ्य और समृद्धि आ सके। 

कृषि के माध्यम से एक बेहतर समाज बनाया जा सकता हैं। राष्ट्र का उत्थान किया जा सकता हैं। लोगों की सभी तरह की जरूरत को पूरा किया जा सकता हैं। 

आखिरी शब्द यही कहूँगा, नई पीढ़ी को कृषि के छेत्र मे आना चाहिए, नई तकनीक के माध्यम से कृषि मे बदलाओ लाया जा सकता हैं। किसी भी राष्ट्र की आर्थिक स्थिति मे कृषि का बहुत बड़ा योगदान होता हैं, कृषि इस देश, समाज की नीव हैं, बिना इसके समाज मे दरिद्रता या जाएगी। इसके बदलाव में सभी का योगदान होना जरूरी हैं। 

धन्यवाद। 


दोस्तों ये थी कृषि पर भाषण, आशा हैं आपको इससे मदद मिली होगी, अगर आपको इससे जुड़े कोई सवाल हैं तो कमेन्ट जरूर करे। 

आप इस लेख मे अपनी सुविधा अनुसार परिवर्तन कर सकते हैं। ताकि आपके भाषण अस्पष्ट हो सके। 

अगर आपको लगता हैं इस लेख से आपके दोस्तों या रिश्तेदारों को फायदा हो सकता हैं तो इसे शेयर जरूर करे। जय हिन्द। 



Speech on Agriculture

Welcome to Benefitsa. Through this article we will discuss the speech on agriculture.

Are you also looking for a good speech on agriculture? Do you also want to write a speech or an article on agriculture? If yep, then today I am going to help you a tone. Through this article you will be able to give a good speech. You can write a good article.

If you want a speech on agriculture, then definitely read this article completely, so that people like your speech very much, you can win the hearts of people with your speech.

You can change many sentences of this article according to your environment, with the help of which your speech will be enhanced.

So now without any delay let’s start the speech on agriculture.


Speech on Agriculture – in 10 sentences

I salute you all.

All of you are welcome on this occasion of today, on this occasion I would like to say something on agriculture among you all. Which are very signification in today’s time.

  1. Agriculture is not just a word, the whole society, nation and the world are covered in agriculture. It is not possible to imagine any society without agriculture.
  2. Agriculture is the biggest weapon of the country, with the help of which every kind of war is won, whether it is the war of hunger or the war of need.
  3. Our country is an agricultural country, a large population of our country is dependent on agriculture. The country develops through agriculture, the people are nurtured.
  4. Agriculture does not mean only farming, agriculture also includes rearing of animals, through agriculture, people’s lives are changed.
  5. Today the contribution of agriculture to the progress of the country is huge. Society cannot be imagined without agriculture.
  6. Agriculture plays a huge role in maintaining the foundation of the country, not only from today but since ancient times.
  7. People get employment through agriculture. People’s needs are met.
  8. Agriculture is a very big means of earning for the people, the life of the people is becoming happy with the medium of agriculture.
  9. Not only India, every country in the world is dependent on agriculture. The economic condition of the country has improved through agriculture.
  10. Today we are healthy because of the people dependent on agriculture, our every need is being met. All of us are developing because of agriculture.

The last word I would say is that no society can be imagined without agriculture. Every human should actively participate in agriculture so that the world and society can change.

Thank you.


Speech on Agriculture – in 300 words

Best wishes to all of you.

Today, on this occasion, I welcome all of you here. Today I am very happy to be with you on this occasion, I want to share something on agriculture with all of you on this occasion. Which are very signification in today’s time.

Farmers are like God in today’s time, no one can imagine today’s time without agriculture. It is because of agriculture that the country, society and the world are sustained. Today about 70% of the population is dependent on agriculture. The country is developing due to agriculture.

If we talk about India then here, about 60-70% people are dependent on agriculture. It is only because of agriculture that millions of people get their stomachs. People get jobs. All the big cities that are there today are all dependent on agriculture.

India is an agricultural country; agriculture is organized in almost every household here. Due to which they not at all face any problem. People are improving their life because of agriculture. People do agriculture in a huge area, due to which more profit, more employment, and all the needs are met.

There are many such places in the field of agriculture where there is not much yield, the government and people should take concrete steps to change it, change should be brought in the field of agriculture so that all the problems of agriculture can be eliminated.

On the loss of agricultural crops, the farmer should get some help from the government and people so that the life of the farmer runs well and the farmer can do farming in a better way.

Today agriculture is a very good means of earning, with the help of this, people’s life changes, people become happy. The economic condition of the country has also improved through agriculture.

Years ago, millions of people died of hunger due to poor agricultural production, but in today’s time, due to better agriculture, there has been a change in the life and society of the people.

Farming does not just mean irrigating crops; it also includes caring for animals and protecting the environment.

On this occasion of today, the last word I would say is that new people need to come to agriculture with new technology. Due to the good yield of agriculture, people will change and the country and society will develop.

Thank you.


इसे भी पढे 

खेल पर भाषण/Speech on Sport

Speech on Agriculture – in 500 words

You are all welcome.

In today’s function, I warmly welcome all of you, thank you all for coming on this occasion today, we all have gathered here today to discuss the topic of agriculture. On this occasion, I would like to start this function in front of all of you by saying a few words on agriculture.

Our country India is an agricultural country, about 70% of the population in this country is dependent on agriculture, agriculture is not just a penny, it is a means through which people’s lives change, society changes and the country develops.

The foundation of any country depends on agriculture. Millions of people fill their stomach through agriculture, people get employment through agriculture, the role and contribution of agriculture in the development of the country is huge.

Agriculture is organized in a vast area in India, through which the country’s economy improves and changes. It is not possible to imagine a country without agriculture.

In today’s time, there has been a lot of change in the field of agriculture, in some area’s agriculture is done in a large population, and in some areas in very less area, due to this some people benefit, and some people suffer loss.

We all need to work in this field and bring change in it. So that agriculture can progress, people can get more profit from it.

Agriculture is not only about farming; it also includes rearing of animals. Various different types of crops are grown in agriculture like wheat, potato, rice, onion, tomato, mango, etc.

We can make this profession of agriculture better with new technology and with the help of measures. Due to which peace, happiness, wealth, health and prosperity can come in the farmer.

A better society can be made through agriculture. The nation can be uplifted. All the needs of the people can be met.

I will say the last word, the new generation should come in the field of agriculture, through new technology, changes can be brought in agriculture. Agriculture has a great contribution in the economic condition of any nation, agriculture is the foundation of this country and society, without it there will be poverty in the society. Everyone’s contribution is necessary in its change.

Thank you.


Friends, this was a speech on agriculture, hope you have got help from this, if you have any question related to this, then definitely comment.

You can make changes in this article as per your convenience. so that your speech may be unclear.

If you think your friends or relatives can benefit from this article, then do share it. Jai Hind.


इसे भी पढे

किताबों पर भाषण/Speech on Booksमाँ पर भाषण/Speech on Mother
योग पर भाषण/Speech on Yogaपिता पर भाषण/Speech on Father
शेयर जरूर करे
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *