खेल पर भाषण

खेल पर भाषण हिन्दी मे | Speech on Sport in English

खेल पर भाषण 

आपका बेनेफिट्सा में स्वागत है। इस लेख के माध्यम से हम खेल पर भाषण पर चर्चा करेंगे।  

क्या आप भी खेल पर भाषण तलाश कर रहे हैं? अगर आपका जवाब हाँ है, तो आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। अक्सर स्कूल, कॉलेज, और परीक्षा में भाषण देने या लिखने के लिए कहा जाता है। और बेहतर भाषण न जानने पर हम विफल हो जाते हैं। 

मगर आज आपको यहाँ एक से बढ़कर एक भाषण, आपके अनुसार उपलब्ध कराए जाएगा, जो कि आपको हर छेत्र मे बहुत मदद करने वाला हैं। 

आपको पहले हम बता दे की आप अपने माहौल के अनुसार, अपने कॉलेज और स्कूल के अनुसार इस लेख में परिवर्तन कर सकते हैं, जिससे आपके भाषण मे निखार आए। 

तो अब बिना किसी देरी के शुरू करते हैं खेल पर भाषण। 


खेल पर भाषण – 10 वाक्यों में 

आप सभी को मेरा प्रणाम। 

आज के इस अवसर पर, मैं आप सभी का यहां स्वागत करता हूँ, आज का ये मनमोहक दृश्य देख कर मुझे बहुत खुशी हो रही हैं, मैं आज आप सभी के बीच इस अवसर पर खेल पर दो शब्द कहना चाहूँगा। 

  1. आज से सालों पहले जब कोई बच्चा खेलता था तब लोग उसे पढ़ने के लिए प्रेरित करते थे, मगर आज के समय खेल के लिए लोगों को प्रेरित किया जाता हैं। 
  2. क्यूंकि खेलने से शारीरिक और मानसिक विकास होता हैं। बिना खेल किसी भी बच्चे का बचपन अधूरा हैं। 
  3. आज के समय हर बच्चे को खेलना उतना ही जरूरी हैं जितना, लोगों को पैसे कमाना, बिना खेल के हर इंसान अधूरा हैं। 
  4. खेलने से हमारा शरीर हर तरह से तंदुरुस्त होता हैं, किसी भी तरह का कोई बीमारी हमे छू नहीं पाती, शरीर की सुस्ती खत्म होती हैं। मांशीक संतुलन बढ़ता हैं। 
  5. आज के तकनीकी दुनिया में लोग ऑनलाइन खेल खेलने मे ज्यादा मगन हो गए हैं, लोगों ने बाहर खेलना बहुत कम कर दिया हैं, मगर ये बहुत ही नुकसानदायक हो सकता हैं उनकी स्वास्थ्य के लिए। 
  6. हम कहते हैं की बच्चों को खेलना चाहिए, मगर बड़े-बुजुर्गों का भी खेलना बहुत जरूरी हैं, खेल से तनाव कम होता हैं और लोगों की उम्र बढ़ती हैं। 
  7. आज के समय में लोग अपना करियर भी खेल मे बनाते हैं, विराट खोली, सचिन तेंडुलकर, मैरी कॉम ये सभी ने खेल के माध्यम से अपने जीवन को बदला हैं और देश का नाम भी किया हैं। 
  8. अगर किसी को अपने जीवन मे खेल से करियर बनाना हैं तो उसे सही दिशा देना जरूरी हैं, उन्हे कोच के माध्यम से सही शिक्षा दिया जा सकता हैं। 
  9. खेल से सिर्फ हमें शारीरिक और मानसिक उपलब्धियों नहीं मिलती, इसे हम अपने जीवन भी बहुत कुछ सीखते हैं, जैसे आज्ञाकारिता, अनुशासन, धैर्य, और ईमानदारी। 
  10. बिना  खेल के जीवन मे कोई भी तरक्की नहीं हो सकती, तन, मन और धन खेल से आती हैं। 

दोस्तों आखिरी शब्द यही कहूँगा की, आप लोग कभी भी खेलना बंद नहीं करना, बिना खेल के जीवन बिल्कुल व्यर्थ हैं, खेल के माध्यम से लोग अपना जीवन सार्थक बनते हैं। 

धन्यवाद। 


खेल पर भाषण – 300 शब्दों में 

यह उपस्थित सभी को मेरा प्रणाम। 

आज हम सभी खेल दिवस के पावन अवसर  पर यहां इकट्ठा हुए हैं। आपके खुशहाल चेहरों से प्रतीत होता हैं आप सभी आज बड़े आनंद मे हैं, आपकी आनंद को मैं दुगना करना चाहूँगा। इस अवसर पर मैं आपके साथ खेल पर कुछ कहना चाहूँगा। 

जीवन मे खेल उतना ही जरूरी हैं जितना कि भोजन, बिना खेल के जीवन का कोई मोल नहीं हैं, खेल को जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग बनाने के बहुत सारे फायदे हैं, इससे हमें शारीरिक और मानसिक उपलब्धियां प्राप्त होती हैं। 

आज के समय मे लोग ऑनलाइन गेम की और ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं, जिसके कारण उनकी स्वस्थ और मानसिक शक्ति कम होते जा रही हैं। अनलाइन रहने के बहुत सारे फायदे हैं। मगर इसके साथ नुकसान भी हैं। 

आज के समय मे हजारों तरीके से खेल हैं, कुछ प्रसिद्ध खेल जैसे क्रिकेट,  बेसबॉल, हॉकी, आदि हैं, मगर इन सभी खेलों का अपना मजा और फायदे हैं। फिज़िकल खेल को खेलने से शरीक की शक्ति बढ़ती हैं, बीमारिया नहीं होती, मांशीक तनाओ कम होता हैं। 

अगर आपको एक बेहतर स्वस्थ चाहिए तो आपको प्रतिदिन खेलना चाहिए। क्युकी रोज खेलने से लोगों की जीवन बढ़ती हैं। खेल सिर्फ मनोरंजन के लिए नहीं हैं, इससे आप बहुत कुछ सीख भी सकते हैं, माना जाता हैं जो लोग नियंत्रण खेलते हैं उसमें आम इंसानों के मुकाबले  ज्यादा अनुशासन, आज्ञाकारिता, धैर्य, ईमानदारी और टीम भावना होती हैं। 

खेलने से लोगों के शरीर मे बदलाव आने लगता हैं, शरीर सुंदर दिखता हैं, शरीर आकर्षित बनता हैं, और आत्मविश्वास बढ़त हैं। 

आज के समय सिर्फ पढ़ाई से ही नहीं बल्कि, खेल के माध्यम से भी अपना करियर बनाया जा सकता हैं, सेकरों लोग हैं जो इसमे अपना करियर बनाते हैं, कई सारे उद्धरण भी हैं, जैसे सचिन तेंडुलकर, धोनी, और मेरी कॉम, आदि। खेल मे अपना करियर बनाने के लिए सही दिशा मिलना जरूरी हैं, कोच को बच्चों को गाइड करना चाहिए, ताकि वो अपना सर्वोत्तम दे सके। 

खेल से आज के समय पहचान, पैसा, और नाम सभी मिलते हैं, शायद ही और कोई करियर हैं जिसमें इतने फायदे हैं, खेल से शरीर की सुस्ती खत्म होने के साथ साथ ऊर्जा भी बढ़ती हैं। 

अगर मैं खेल के ऊपर बोलता जाऊ तो घंटे बीत जाएंगे, आखिरी शब्द यही कहूँगा की जो भी अपना करियर खेल मे बनाना चाहते हैं, उनके माता पिता उनका समर्थन करे, और सभी लोगों को खेल को अपनी जिंदगी में एक महत्वपूर्ण स्थान दे। 

धन्यवाद। 


खेल पर भाषण – 500 शब्दों में 

आप सभी को मेरा प्रणाम। 

आज के इस अवसर पर हम सभी खेल दिवस को मनाने के लिए यहाँ उपस्थित हैं, इस अवसर पर मैं आप सभी के साथ खेल पर अपने विचार प्रकट करना चाहूँगा। 

आज से सालों पहले जब भी कोई बच्चा ज्यादा समय खेलने मे बिताता था, तब उसके परिवार के लोग कहते थे बच्चा अपनी जिंदगी बर्बाद कर रहा हैं। मगर वही, आज के समय मे बच्चे को खेलने दिया जाता हैं, इसका कारण क्या हैं? जानते हैं आप?

मैं आपको बताता हूँ, क्यूंकी खेल के अनगिनत फायदे हैं, आज के समय खेल जीवन का अंग समझा जाता हैं, आज हम बिना खेल, अपनी जिंदगी की कल्पना भी नहीं कर सकते। 

खेल जीवन का महत्वपूर्ण अंग है, हमारा बचपन बिना खेल के अधूरा हैं, और बिना खेल के जीवन का कोई मतलब नहीं हैं। 

रोजाना खेलने से हम स्वस्थ रहते हैं, किसी भी तरह की कोई बीमारी नहीं आती, शरीर तंदुरुस्त रहता हैं, बस इतना ही नहीं हैं खेल के फाइडे, इससे भी ज्यादा हैं। जब बच्चा बचपन से ही खेल कूद करता है, तब वो अपनी जिंदगी की नींव रखता हैं, खेलने वाले बच्चे ज्यादा ऊर्जावान और फुर्तीले होते हैं, उनमें समस्या का सामना करने की ज्यादा ताकत होती हैं। 

खेल के माध्यम से इंसान सभी तरह के उपलब्धियों को पता है शारीरिक शक्ति बढ़ती हैं, बीमारियां आदि से मुक्त रहता हैं। देह गया हैं खेलने वाले व्यक्ति मे ज्यादा ऊर्जा और मानसिक संतुलन होता हैं, खेलने पर आत्मविश्वास बढ़ता हैं।  

खेलने से शरीर आकर्षित होता है, सही दिशा मिलती है, धैर्य आता हैं, चुनोतियो से लड़ने मे ताकत मिलती हैं। अनुशासन आता हैं जीवन मे, ईमानदारी आती हैं, टीम भावना आती हैं, इसी तरह के बहुत सारे फायदे हैं। 

आज खेल के माध्यम से लोग अपनी जिंदगी को बदलते हैं, खेल मे अपना करियर बनाते हैं, आज हमारे पास सेकड़ों उदाहरण हैं लोगों के जिसने अपना जीवन खेल के माध्यम से बनाया हैं। सचिन तेंदुलकर, धोनी, मेरी कॉम, जैसे बहुत सारे उदाहरण हैं, जिन्होंने अपने जीवन को खेल के माध्यम से बदला हैं और देश समाज का नाम रोशन किया हैं। 

भले ही आज तकनीक ने खेल को कम कर दिया हैं, मगर आज अभी खेल का महत्व कम नहीं हुआ हैं, खेल हमेशा ही जीवन के लिए महत्वपूर्ण रहेगा, और खेल का महत्व हमेशा बढ़ते ही रहेगा। 

जो लोग नहीं खेलते या बहुत कम खेलते हैं, उन्हें खेलना चाहिए, ताकि वो भी खेल के फायदे को पा सके। खेल एक वरदान हैं इंसानियत के लिए। 

आखिरी शब्द उन लोगों के लिए कहना चाहूँगा जो अपोने बच्चों को ज्यादा पढ़ने और कम खेलने देते हैं, भाइयों खेल और पढ़ाई के संतुलन से बच्चे का जीवन निखरता हैं, जितना पढ़ाई, भोजन और अन्य चीजे जरूरी हैं जीवन के लिए उतना ही खेलना भी जरूरी हैं। 

धन्यवाद। 


दोस्तों ये थी खेल पर भाषण पर एक छोटा स लेख, आशा हैं आपको पसंद आया होगा और आपको इससे मदद मिली होगी, आप इस लेख के कई सारे वाक्यों को अपने अनुसार बदल सकते हैं ताकि आपका भाषण बेहतर हो सके। 

अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई समस्या हैं तो आप कमेंट जरूर करें, और इसे शेयर जरूर करे। जय हिन्द।    


Speech on game – खेल पर भाषण 

Welcome to Benefitsa. Through this article, we will discuss speech on sports.

Are you also looking for a speech on sports? If your answer is yep, then you have come to the right space. Often asked to deliver or write a speech at school, college, and exams, and we fail to don’t know a better speech.

But today, more than one speech will be made available according to you, which will be of great help to you in every field.

Let us first tell you that according to your environment, according to your college and school, you can make changes in this article, which will improve your speech.

So now let us start the speech on the game without any delay.


Speech on the game – in 10 sentences

I salute you all.

On this occasion of today, I welcome all of you here, I am very happy to see this beautiful scene today, I would like to say two words on the game between you all on this occasion.

  1. Years ago, when a child used to play, people used to motivate him to read, but today people are motivated to play.
  2. Because playing leads to physical and mental development. The childhood of a child is incomplete without playing.
  3. Today, playing every child is as important as earning money, people are incomplete without playing.
  4. By playing, our body is healthy in every way, no disease of any kind touches us, the body’s slowness ends. The mental balance increases.
  5. In today’s technological world, people have become more and more adept at playing online games, people have reduced playing outside a lot, but they can be very harmful to their health.
  6. We say that children should play, but it is very important for the elders to play as well, sports reduce stress and increase the lifespan of people.
  7. In today’s time, people also make their careers in sports, Virat Kohli, Sachin Tendulkar, Mary Kom have all changed their lives through sports and have also named the country.
  8. If someone wants to make a career in sports in their life, then it is necessary to give them the right direction, they can be given the right education through a coach.
  9. Not only do we get physical and mental achievements from sports, but we also learn a lot from our lives, like obedience, discipline, patience, and honesty.
  10. Without sports, no progress can be made in life, body, mind and wealth come from sports.

Friends, the last word I will say is that you people never stop playing, life without sports is absolutely meaningless, through sportspeople make their life meaningful.

Thank you.


Speech on the game – 300 words

My greetings to everyone present.

Today we have all gathered here on the auspicious occasion of Sports Day. It appears from your happy faces that you are all in great joy today, I would like to double your enjoyment. On this occasion, I would like to say something to you on the game.

Sports are as important in life as food, there is no value in life without sports, there are many benefits of making sports an important part of life, it gives us physical and mental achievements.

In today’s time, people are getting more attracted to online games, due to which their healthy and mental strength are becoming less. There are many benefits to staying online. But there are disadvantages as well.

Today, there are thousands of ways of sports, there are some famous sports like cricket, baseball, hockey, etc., but all these games have their own fun and benefits. By playing physical games, the power of the body increases, there is no sickness, the mental stems are reduced.

If you want a better health, then you should play daily. Because playing every day increases people’s lives. Sports are not just for entertainment, you can also learn a lot from this, it is believed that people who play control have more discipline, obedience, patience, honesty, and team spirit than ordinary people.

Playing changes, the body of people, makes the body look beautiful, attracts the body, and has a confident edge.

Today’s career can be made not only through studies but also through sports, there are many people who make their careers in it, there are many quotes too, like Sachin Tendulkar, Dhoni, and Mary Kom, etc. To make a career in sports, it is necessary to find the right direction, the coach should guide the children, so that they can give their best.

Today’s recognition, money, and name are all available from sports, there are hardly any other careers in which there are so many benefits, with the end of body sluggishness from sports, energy also increases.

If I go on speaking about sports, the hours will pass, the last word will say that whoever wants to make his career in sports, his parents should support him, and give sports to all people an important place in their lives.

Thank you.


इसे भी पढे

कृषि पर भाषण/speech on agriculture

Speech on the game – 500 words

I salute you all.

On this occasion of today, we are all present here to celebrate Sports Day, on this occasion I would like to express my thoughts on the game with all of you.

Years ago, whenever a child used to spend more time playing, his family members used to say that the child is wasting his life. But the same, in today’s time the child is allowed to play, what is the reason for this? Do you know?

I tell you, because there are innumerable benefits of sports, today sports are considered as part of life, today we cannot imagine our life without sports.

Sports are an important part of life, our childhood is incomplete without sports, and life without sports has no meaning.

By playing daily, we remain healthy, there is no disease of any kind, the body remains healthy, that is not all, the benefits of the game are more than that. When a child play from childhood, he lays the foundation of his life, the children playing are more energetic and agile, they have more power to face the problem.

Through sports, human beings know all kinds of achievements, increase physical strength, remain free from diseases etc. The person who plays the body has more energy and mental balance; confidence increases when playing.

Playing attracts the body, gives the right direction, brings patience, gives strength in fighting the selections. Discipline comes in life, honesty comes, team spirit comes, there are many similar benefits.

Today people change their lives through sports, make their careers in sports, today we have hundreds of examples of people who have made their lives through sports. There are many examples like Sachin Tendulkar, Dhoni, Mary Kom, who have changed their lives through sports and have brought laurels to the nation and society.

Even though technology has reduced the game today, but the importance of the game has not diminished today, the game will always be important for life, and the importance of the game will always be increasing.

Those who do not play or play very little, they should play, so that they too can get the benefit of the game. Sports are a boon for humanity.

I would like to say the last words for those who allow their children to read more and play less, brothers balance the life of the child with the balance of sports and studies, as much education, food, and other things are necessary for life, as much as play. Are required.

Thank you.


Friends, this was a short article on speech on sports (खेल पर भाषण), hope you liked it and you might have helped it, you can change many sentences of this article according to yourself so that your speech can be improved.

If you have any problem related to this article, then you must comment, and share it. Jai Hind.


इसे भी पढे

किताबों पर भाषण/Speech on Booksमाँ पर भाषण/Speech on Mother
योग पर भाषण/Speech on Yogaपिता पर भाषण/Speech on Father
शेयर जरूर करे
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *